Soia ki Rashtradrohi Parishad | सोनिया की राष्ट्रद्रोही परिषद

Written by Rajesh Sharma

📅 February 14, 2022

Soia ki Rashtradrohi Parishad

राष्ट्रीय सलाहकार परिषद Soia ki Rashtradrohi Parishad है । इन कट्टरपंथी लोगों का एक मात्र उद्देश्य हिंदू संस्कृति को नष्ट करना है ।

Soia ki Rashtradrohi Parishad | Sonia’s Anti-National Council

भारतीय कानून के अंतर्गत सोनिया प्रधानमंत्री नहीं बन सकती है तो फिर उन्होंने पिछले दरवाजे से देश पर शासन करने का षड्यंत्र रचा। इसलिए सोनिया के नेतृत्व में ‘राष्ट्रीय सलाहकार परिषद्’ नामक एक संस्था का गठन किया गया । यह अंध विश्वास से ग्रस्त कट्टरपंथी लोगों का राष्ट्र-द्रोही परिषद् है जिनका एक मात्र उद्देश्य है हिंदू संस्कृति को नष्ट करना । उनकी भारतीय संस्कृति से शत्रुता और हिंदुत्व से घृणा जग जाहिर है । सोनिया के नेतृत्व में ‘सांप्रदायिक हिंसा रोकथाम विधेयक’ बनाया गया है ।

क्या आप सोचते हैं कि इस परिषद् के तीस्ता सीतलवाड, शबनम हाशमी, सैयद शहाबुद्दीन, हरीश मंडार, असगर अली इंजीनियर, कमल फारुखी, मौलाना नियाज फारुखी, फराह नकवी, नाजमी वजीन, जान डयाल, राम पुहनयानी, इत्यादि जो सभी हिंदुओं से घृणा करने वाले हैं, उनके द्वारा प्रस्तावित यह मसौदा (प्रारूप) क्या हिंदू हित में होगा ? यह विधेयक यह सोचकर बनाया गया है कि साम्प्रदायिक हिंसा केवल बहुसंख्यक समाज ही करता है, अल्पसंख्यक समाज साम्प्रदायिक हिंसा नहीं करता । इस विधेयक के अनुसार हिंसा के लिए दोषी सिर्फ बहुसंख्यक हिंदू ही होंगे और सजा भी केवल हिंदुओं को ही मिलेगी ।

– हिंदू वाइस, जून 2011

राहुल तथा सोनिया की रहस्यमयी विदेश यात्रायें

Soia ki Rashtradrohi Parishadइण्डिया टुडे ने ‘सूचना का अधिकार’ (R.T.I.) कानून के अंतर्गत लोकसभा सचिवालय में एक आवेदन देकर पूछा : ‘‘सचिवालय को 14 वीं और 15 वीं लोकसभा के दौरान सोनिया गाँधी,  राहुल गाँधी की विदेश यात्राओं के बारे में कितनी बार जानकारियाँ  निवेदन प्राप्त हुए ?’’

इस पर लोकसभा सचिवालय के सचिव श्री के.सोना ने अपने 4 जुलाई 2011 के जवाब में लिखा ‘एक बार भी नहीं ।’ वर्ष 2004 से जब से यूपीए सरकार केंद्र में आयी है , सोनिया और राहुल ने अपनी सरकारी और निजी विदेश यात्राओं के बारे में लोकसभा सचिवालय को अवगत नहीं कराया है।

हिसार के सूचनाधिकार कार्यकर्ता रमेश कुमार ने फरवरी 2010 में प्रधानमंत्री कार्यालय में एक आवेदन देकर सोनिया गाँधी की विदेश यात्राओं और उन पर हुए खर्चों का ब्यौरा  माँगा । कैबिनेट सचिवालय ने 8 जुलाई 2011 के अपने जवाबी- पत्र में लिखा है कि आवेदन को राष्ट्रीय सलाहकार परिषद और प्रधानमंत्री कार्यालय को भेजा जा रहा है।

राष्ट्रीय सलाहकार परिषद ने भी रमेश कुमार को भेजे गए पत्र में यह कहते हुए अपने हाथ खड़े कर दिए हैं कि परिषद् के पास परिषद् की अध्यक्षा सोनिया गांधी द्वारा की गई विदेश यात्राओं पर हुए खर्चों के विवरण की कोई सूचना नहीं है । – इण्डिया टुडे, 10 अगस्त 2011

आखिर सोनिया की विदेशी यात्राओं में वो कौनसा राज छुपा है जो इस देश के प्रधानमंत्री इस देश की जनता को बताना नहीं चाहते ? – shvoong.com, 21 OyZ 2011

0 Comments

Submit a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Kashmir Atank Aur Film | कश्मीर आतंक और फिल्म | Kashmir Terror and Film

Kashmir Atank Aur Film | कश्मीर आतंक और फिल्म | Kashmir Terror and Film

यदि कहानी पाश्विक और क्रूर है उसे वैसा ही दिखाए जाने में गलत क्या है । Kashmir Atank Aur Film लेख में नरसंहार कहाँ कब और कैसे तथा किसके द्वारा किया गया । इसके पीछे कौन- कौन सी शक्तियाँ काम कर रही थी आदि यहाँ देखें । [learn_more caption="Kashmir Atank Aur Film"...

read more
Da kashmir Phail Film | द कश्मीर फाइल फिल्म | The Kashmir File Film

Da kashmir Phail Film | द कश्मीर फाइल फिल्म | The Kashmir File Film

एक सच्ची कहानी है Da kashmir Phail Film, जो कश्मीरी पंडित समुदाय के कश्मीर नरसंहार के पीड़ितों के वीडियो साक्षात्कार पर आधारित है। और भी आगें पढेगें कश्मीर नरसंहार क्यों हुआ था ? षडयंत्र कौन रच रहा था ? तथा पनुन कश्मीरियों की माँग क्या है आदि । [learn_more caption="Da...

read more
Cangresiyon ke Kaledhan | कांग्रेसियों के कालेधन पर स्विस बैंक का कब्जा

Cangresiyon ke Kaledhan | कांग्रेसियों के कालेधन पर स्विस बैंक का कब्जा

2011 में स्विस बैंक ने भारत सरकार को गोपनीय पत्र लिखकर भारत के दस सबसे बड़े उन जमाकर्ताओं को सूची भेजी थी जिनके Cangresiyon ke Kaledhan थे । Cangresiyon ke Kaledhan | कांग्रेसियों के कालेधन पर स्विस बैंक का कब्जा 31 अक्टूबर 2011 को स्विस बैंक  ने भारत सरकार को गोपनीय...

read more

New Articles

Mangalamaya mrtyu ! | मङ्गलमय मृत्यु ! (Nepali)

Mangalamaya mrtyu ! | मङ्गलमय मृत्यु ! (Nepali)

यस Mangalamaya mrtyu लेखमा अवश्यम्भानी मृत्युलाई कसरी मङ्गलमय बनाउनेबारे जान्नुहुने छ। Mangalamaya mrtyu ! | मङ्गलमय मृत्यु ! सन्तहरूको सन्देश हामीले जीवन र मृत्युको धेरै पटक अनुभव गरिसकेका छौ । सन्तमहात्माहरू भन्छन्, ‘‘तिम्रो न त जीवन छ र न त तिम्रो मृत्यु नै हुन्छ ।...

read more
Sadgatiko raajamaarg : shraaddh | सद्गतिको राजमार्ग : श्राद्ध (Nepali)

Sadgatiko raajamaarg : shraaddh | सद्गतिको राजमार्ग : श्राद्ध (Nepali)

यस Sadgatiko raajamaarg : shraaddh लेखमा मृतक आफन्त आदिको श्राद्धले उसको सद्गति हुने तथा उसको जीवात्माको शान्ति हुन्छ भन्ने कुरा उदाहरणसहित सम्झाइएको छ। श्राद्धा सद्गगतिको राजमार्ग हो। Sadgatiko raajamaarg : shraaddh | सद्गतिको राजमार्ग : श्राद्ध श्रद्धाबाट फाइदा -...

read more
Vyavaharaka kehi ratnaharu | व्यवहारका केही रत्नहरू (Nepali)

Vyavaharaka kehi ratnaharu | व्यवहारका केही रत्नहरू (Nepali)

यस Vyavaharaka kehi ratnaharu लेखमा केही मिठो व्यबहारका उदाहरणहरू दिएर हामीले पनि कसैसित व्यवहार सोही अनुसार गर्नुपर्छ भन्ने सिक छ। Vyavaharaka kehi ratnaharu | व्यवहारका केही रत्नहरू शतक्रतु इन्द्रले देवगुरु बृहस्पतिसँग सोधे : ‘‘हे ब्रह्मण ! त्यो कुन वस्तु हो जसको...

read more
Garbhadharaṇa ra sambhogakala | गर्भधारण र सम्भोगकाल (Nepali)

Garbhadharaṇa ra sambhogakala | गर्भधारण र सम्भोगकाल (Nepali)

यस Garbhadharaṇa ra sambhogakala लेखमा दिव्य सन्तान पाउनका लागि सम्भोग गर्ने समय र विधि बताइएको छ। Garbhadharaṇa ra sambhogakala | गर्भधारण र सम्भोगकाल सहवास हेतु श्रेष्ठ समय * उत्तम सन्तान प्राप्त गर्नका लागि सप्ताहका सातै बारका रात्रिका शुभ समय यसप्रकार छन् : -...

read more
Santa avahēlanākō phala | सन्त अवहेलनाको फल

Santa avahēlanākō phala | सन्त अवहेलनाको फल

यस Santa avahēlanākō phala लेखमा सन्त महापुरुषको अवहेलनाबाट कस्तो दुष्परिणाम भोग्नुपर्छ भन्ने ज्ञान पाइन्छ। Santa avahēlanākō phala | सन्त अवहेलनाको फल आत्मानन्दको मस्तीमा निमग्न रहने कुनै सन्तलाई देखेर एक जना सेठले सोचे, ‘ब्रह्मज्ञानीको सेवा ठुलो भाग्यले पाइन्छ ।...

read more
Bharat Ka Sanskritik Samrajya । भारत का सांस्कृतिक साम्राज्य

Bharat Ka Sanskritik Samrajya । भारत का सांस्कृतिक साम्राज्य

प्राचीन काल में Bharat Ka Sanskritik Samrajya पूरे विश्व में फैला हुआ था । हमारे इतिहार व प्राप्त खुदाई के साक्ष्य इसके गवाहा हैं । Bharat Ka Sanskritik Samrajya । Cultural Empire Of India प्राचीन समय में आर्य सभ्यता और संस्कृति का विस्तार किन-किन क्षेत्रों में हुआ...

read more