Korona Gaidline Ka Raj | कोरोना गाइडलाइन का राज

Category: कोरोना

Written by Rajesh Sharma

📅 January 15, 2022

Korona Gaidline Ka Raj | कोरोना गाइडलाइन का राज

आज पूरी दुनिया में कोरोना के नाम पर जो षडयंत्र चला उसमें जो Korona Gaidline Ka Raj है वह यहाँ पर अच्छी तरह समझ सकते हैं । कोरोना गाइडलाइन का राज समझ कर उससे अपने आप को बचाया जा सकता है ।

Korona Gaidline ka Raj | Secret Behind Corona Guidelines

मास्क :

Korona Gaidline Ka Raj | कोरोना गाइडलाइन का राजमास्क लगवाकर लोगों को जबरदस्ती बीमार बनाया जा रहा है । मास्क से शरीर में ऑक्सीजन की कमी तथा CO2 की मात्रा बढ़ जाती है, जिससे फेफड़ों में संक्रमण व कैंसर होने की संभावना बढ़ जाती है । शरीर में हानिकारक बैक्टीरिया बढ़ जाते हैं तथा रोग प्रतिकारक शक्ति घट जाती है । खून का ‘अम्लीय-क्षारीय मापदंड’ (PH Value) घट जाता है जो किडनी-लीवर को खराब करता है ।

सेनेटाइजर :

Korona Gaidline Ka Raj | कोरोना गाइडलाइन का राजसेनेटाइजर से हमारे अच्छे जीवाणु भी मर जाते हैं, जिससे बीमारी की सम्भावना बढ़ जाती है । ज्यादा सेनेटाइजर लगाने से एल्कोहल हमारे खून में चला जाता है जो तमाम बीमारियाँ पैदा करता है ।

Korona Gaidline ka Raj

सोसल डिस्टेस्सिंग :

इसके माध्यम से एक-दूसरे को भयभीत किया जा रहा है । प्राणी जब डर जाता है तो उसकी रोग प्रतिकारक शक्ति 50 से 90 प्रतिशत घट जाती है । भय ही मृत्यु है और निर्भयता जीवन है ।

लॉक डाउन :Korona Gaidline Ka Raj | कोरोना गाइडलाइन का राज

लोगों को डराकर घरों में कैद करना, उनकी आमदनी पर कुठाराघात करना जिससे लोग पराश्रित हों व कोई भी प्रतिकार करने में असमर्थ हो जायें । यह भी एजेंडा-21 का एक हिस्सा है । देश की अर्थव्यवस्था ध्वस्त करना इसकी प्रमुखता है ।

इसे भी अवश्य पढेः

नोट :

वैक्सीन के पीछे का षडयंत्र छुपाया जा रहा है तथा लोग इस विषय में जागरूक न हो जायें, इसलिए देश को तमाम मुद्दों पर भटकाया जा रहा है । कोरोना गाइडलाइन का राज व पर्दाफास निम्न आकडों से समझा जा सकता है ।

कोरोना का असली राज जानने के लिए इस किताब को अवश्य पढें- Click करेंः

शासक हुआ शैतान

Related Artical- 

 वैक्सीन व व्यवस्था- जनता की आवाज

0 Comments

Submit a Comment

Related Articles

No Results Found

The page you requested could not be found. Try refining your search, or use the navigation above to locate the post.

New Articles

Trikonmiti Ki Khoj- त्रिकोणमिति की खोज किसने की

Trikonmiti Ki Khoj- त्रिकोणमिति की खोज किसने की

Trikonmiti Ki Khoj एवं प्रयोग प्राचीन भारत में किया गया । जो और देशों से होते हुए फिर से भारत में कुछ औऱ शब्द लिए पहुचाँ । Trikonmiti Ki Khoj- Who DiscoveredTtrigonometry ? त्रिकोणमिति का आविष्कार एवं प्रयोग प्राचीन भारत में किया गया । भारतीय ‘ज्या’ और ‘कोटिज्या’ ही...

read more
Jyamiti ki Khoj | ज्यामिति की खोज

Jyamiti ki Khoj | ज्यामिति की खोज

ज्यामिति की खोज | Jyamiti ki Khoj भारत में हुई । इसका सर्वप्रथम प्रयोग भारतीयों ने ही किया । इसका कहाँ और कैसे उपयोग किया हम याहाँं समझेगें । Jyamiti | ज्यामिति | Geometry रेखागणित की परम्परा वैदिक यज्ञ परम्परा के साथ-साथ जुड़ी रही । विभिन्न प्रकार की यज्ञ वेदियों के...

read more
Prem/ Vasana | प्रेम/ वासना | Love Vs Lust

Prem/ Vasana | प्रेम/ वासना | Love Vs Lust

संवेदन, भावना, वासना और कलनाये चार ही इस संसार में अनर्थ पैदा करने वाले हैं । ये चारों मिथ्याभूत अर्थो का अवलम्बन करते हैं जो Prem/ Vasana Prem/ Vasana | प्रेम/ वासना | Love Vs Lust संसार रुपी अनर्थ के निराश का उपाय जानने के लिए, पहले उसके बीजों को जानना जरुरी है । वह...

read more
Shoony Ki Khoj | शून्य की खोज

Shoony Ki Khoj | शून्य की खोज

Shoony Ki Khoj भारतीयों ने शून्य को स्थान, संज्ञा, प्रकृति और संकेत प्रदान करने के साथ-साथ इसे उपयोगी शक्ति भी प्रदान की । इसे हम यहाँ समझेगें । Shoony Ki Khoj | शून्य की खोज | Research for zero विश्व के तमाम आविष्कार यदि एक पलड़े में रख दिए जाएँ और दूसरे पर केवल शून्य...

read more
Bhartiya Antarrashtriya Ank Sanket | भारतीय अंतर्राष्ट्रीय अंक संकेत

Bhartiya Antarrashtriya Ank Sanket | भारतीय अंतर्राष्ट्रीय अंक संकेत

आज संपूर्ण विश्व जिन Bhartiya Antarrashtriya Ank Sanket का उपयोग करता है,उनका आविष्कार भारत में हुआ है । यह कब कैसे हुआ इसे यहाँ समझेगें । Bhartiya Antarrashtriya Ank Sanket Indian International Numeral System आज संपूर्ण विश्व जिन अंकों का उपयोग करता है, उनका आविष्कार...

read more
Ganit ki Khoj | गणित की खोज

Ganit ki Khoj | गणित की खोज

प्राचीनकाल में ईसा से सैकड़ों वर्ष पूर्व से ही हमारे देश में गणित | Ganit का विषेश महत्व रहा है । गणित के अंतर्गत सामान्यत:इन विषयों का समावेश होता है - अंक Ganit,बीजगणित, रेखागणित और ज्यामिती । इन सभी विषयों पर भारत ने जो पध्दतियाँ विकसित की हैं उनमें से अनेक आज...

read more