New World Order Sangathan | Organization of the New World Order

Written by Rajesh Sharma

📅 January 21, 2022

New World Order ke Sangathan- इल्युमिनाटी, बिल्डरबर्ग, राथ्सचाइल्ड आदि हैं । दुनियाँ की बड़ी कंपनियों और बैंकों पर इनका आधिपत्य है ।

New World Order ke Sangathan | न्यू वर्ल्ड ऑर्डर के संगठन

New World Order ke Sangathanएकीकृत विश्व सरकार अंततः अंतर्राष्ट्रीय बैंकरों, भ्रष्ट राजनेताओं, निगमवादियों और संयुक्त राष्ट्र के सबसे अमीर वर्ग द्वारा नियंत्रित होती है । इस न्यू वर्ल्ड ऑर्डर की परिकल्पना को साकार करने वाले मुख्य खिलाड़ी निम्न हैं ।
1. इल्युमिनाटी
2. बिल्डरबर्ग
3. राथ्सचाइल्ड परिवार
4. फ्रीमेसन

दुनियाँ की अधिकांश बड़ी कंपनियों और बैंकों पर इन समूहों और परिवारों का आधिपत्य है, इसके साथ दवा बनाने वाली बड़ी फार्मा और हथियार बनाने वाली कम्पनियाँ, ताकतवर नेता, और मीडिया संस्थानों को नियंत्रित करने वाले कार्पोरेट्स भी शामिल हैं ।

Related Artical: न्यू वर्ल्ड ऑर्डर क्या है ?

1. इल्युमिनाटी (Illuminati):

New World Order ke Sangathanइल्युमिनाटी एक गुप्त संगठन है, जिसकी स्थापना 1 मई सन् 1776 को जर्मनी के अपर बवेरिया में विश्वविद्यालय के प्रोफेसर एडम वेइशॉप्ट (Adam Weishaupt) द्वारा की गई थी । इस समाज में स्वतंत्र विचारवाद, धर्मनिरपेक्षता, उदारवाद, गणतंत्रवाद और लैंगिक समानता के समर्थक शामिल थे । इल्युमिनाटी उन घटनाओं के पीछे की योजनाएं बनाने वाला खुफिया संगठन है जो नई विश्व व्यवस्था की स्थापना की नींव डाले हुए है ।
20वीं शताब्दी के युद्धकाल के दौरान ब्रिटिश संशोधनवादी इतिहासकार नेस्टा हेलेन वेबस्टर और अमेरिकी सोशलिस्ट एडिथ स्टार मिलर जैसे तानाशाही के समर्थक (fascist) प्रचारकों ने न केवल इल्युमिनाटी साजिश की कल्पना (Myth) को लोकप्रिय बनाया बल्कि यह भी दावा किया कि यह एक गुप्त संगठन था जो यहूदी अभिजात वर्ग की सेवा करता था । इस संगठन ने कथित तौर पर दुनिया को बांटने और शासन करने के लिए वित्तीय पूंजीवाद और सोवियत साम्यवाद दोनों को बढ़ावा दिया ।

Related Artical:  एजेंडा 21 का इतिहास

एजेंडा-21 फांसीवादी सिद्धान्त

2. बिल्डरबर्ग या गोल मेज समूह (Bilderberg or Round Table Group):

सन् 2013 में लंदन के एक सुविधा-संपन्न ग्रोव होटल में दुनिया भर के करीब सौ धनी एवं प्रभावशाली लोगों की 61वीं गुप्त वार्षिक बैठक हुई, इन प्रभावशाली लोगों के समूह को बिल्डरबर्ग या गोल मेज समूह कहा जाता है । इसी संगठन ने शीतयुद्ध (सन् 1946 के बाद का कालखण्ड) के दौरान यूरोप एवं उत्तरी अमेरिका के बीच आर्थिक एवं सैन्य सहयोग किया था । चूंकि इस समूह की पहली बैठक मई सन् 1954 में हॉलैंड के बिल्डरबर्ग होटल में हुई थी, इसलिए इस समूह का नाम बिल्डरबर्ग समूह रखा गया।
इसमें राथ्सचाइल्ड परिवार, रॉकफेलर फॉउंडेशन, फोर्ड फॉउंडेशन, कारनेगी यूनाइटेड, किंगडम ट्रस्ट, जे.पी. मार्गन, हिटनी परिवार आदि शामिल हैं । सन् 1877 में उपनिवेशवादी सेसिल रोड्स ने इस गुप्त संगठन की वकालत की थी कि यह गुप्त समूह विश्व सरकार बनाने के लिए कार्य करेगा । सेसिल रोड्स ने अपनी पहली वसीयत में इस कार्य के लिए अपना सारा फंड सौंप दिया ।

Related Artical:  षड्यंत्र सिद्धान्त की हकीकत

3. राथ्सचाइल्ड समूह (Rothschild Group):

New World Order ke Sangathanसन् 1760 के दशक के दौरान मेयर एमसेल राथ्सचाइल्ड ने अपने मूल शहर फ्रैंकफर्ट (जर्मन) में बैंकिंग व्यवसाय स्थापित किया । पिछले सभी अदालती कार्यवाही के विपरीत जाकर, राथ्सचाइल्ड ने अपने धन को जीतने में कामयाब रहे । अपने पांच बेटों के माध्यम से एक आंतरिक बैंकिंग परिवार की स्थापना की, जिन्होंने लंदन, पेरिस, फ्रैंकफर्ट, वियाना और नेपल्स में कारोबार स्थापित किया ।
मेयर राथ्सचाइल्ड के पुत्रों ने एक तरह से पूरे यूरोप में बैंकिंग क्षेत्र पर धाक हासिल कर ली ।

राथ्सचाइल्ड सीमाओं के पार जाने वाले पहले बैंकर बन गए पिछले कई शताब्दियों से युद्ध के संचालन के लिए सरकारों को ऋण देने से बांड जमा करने और विभिन्न उद्योगों में अतिरिक्त धन का संचय करने का पर्याप्त अवसर मिला। उस समय इस परिवार ने उस समय के सबसे शक्तिशाली परिवारों को भी पीछे छोड़ दिया। राथ्सचाइल्ड समूह का इल्युमिनाटी आदि गुप्त संगठनों के बीच महत्वपूर्ण सम्बंध हैं ।

सन् 2003 के बाद से, रॉथ्सचाइल्ड बैंकों के एक समूह को रॉथ्सचाइल्ड कॉन्टिन्यूशन होल्डिंग्स, एक स्विस-रजिस्टर्ड होल्डिंग कंपनी (बैरन डेविड रेने डे रॉथ्सचाइल्ड) की अध्यक्षता में नियंत्रित किया गया है । सन् 2010 में आरआईटी कैपिटल ने अपनी संपत्ति का एक महत्वपूर्ण अनुपात भौतिक सोने के रूप में संग्रहीत किया, अन्य संपत्तियों में खनिज तेल और ऊर्जा से सम्बंधित निवेश शामिल थे । रॉथ्सचाइल्ड नाम एक हद तक पैसे और शक्ति का पर्याय बन गया है, जो शायद अब तक किसी अन्य परिवार से मेल नहीं खाता है । यह परिवार दुनिया के धन और वित्तीय संस्थानों को नियंत्रित करता है ।

Related Artical: बैंकों का असली राज

नई विश्व व्यवस्था विज्ञान

4. फ्रीमेसन (Free Mason):

New World Order ke Sangathanफ़्रीमेसोनरी दुनिया के सबसे पुराने धर्मनिरपेक्ष भ्रातृ संगठनों में से एक है और 16वीं सदी के अंत से लेकर 17वीं सदी की शुरुआत तक ब्रिटेन में इसका उदय हुआ । फ्रीमेसन एक छिपा हुआ राजनीतिक एजेंडा है । यह एक नई विश्व व्यवस्था लाने की साजिश कर रहा है जो मेसोनिक सिद्धांतों के अनुसार आयोजित की जाती है या केवल फ्रीमेसन द्वारा शासित होती है। स्कॉटिश लेखक जॉन रॉबिसन लिखते हैं कि यह संगठन दुनियां पर कब्जा करने के लिए सभी धर्मों और सरकारों को नष्ट करके एक विश्व सरकार बनाना चाहता है ।

इस समय अमेरिका में लगभग 20 लाख और इंग्लैंड में लगभग 5 लाख मेसन हैं । आधुनिक मेसन अत्यंत प्रभावशाली लोग हैं। फ्रीमेसन का कोई धर्म नहीं है, इसलिए किसी भी प्रजाति यूरोपियन, एशियाई, अफ्रीका मूल का पुरुष जिसकी उम्र 21 वर्ष से ऊपर हो मेसन बनने के योग्य होते हैं । यह ऐसे लोगों का समूह है जो आत्मसुधार और ज्ञानवर्धन में विश्वास रखते हैं ।

सरकारों, व्यापारों, कला और मीडिया पर प्रभुत्व बना कर अपने एजेंडों को चलाना और बढ़ाना इनका ध्येय होता है। लेखक वॉल्टर स्कॉट, मार्क ट्वैन, राजनीतिज्ञ रूजवेल्ट, जॉर्ज वाशिंगटन, विंस्टन चर्चिल, व्यापारी हेनरी फोर्ड, राथ्सचाइल्ड समूह आदि इसी संगठन से सम्बंधित हैं ।

Related Artical:  उदारिकरण और वैश्वीकरण

डेनवर एयरपोर्ट (Denver International Airport):

Denver International Airport28 फरवरी सन् 1995 को शुरू हुआ अमेरिका का डेनवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट (Denver International Airport) जिसे इल्युमिनाटी का सिम्बल भी कहा जा रहा है । इस एयरपोर्ट पर बनी मूर्तियाँ, चित्र, ड्राइंग और प्रतीक खुले तौर पर इस सीक्रेट सोसाइटी के न्यू वर्ल्ड आर्डर के एजेंडों को दर्शाते हैं ।

डेनवर एयरपोर्ट के नीचे बनी इमारतों, सुरंगों, खुफिया बैंकर्स और रेलवे लाइन्स युक्त यह छोटा सा खुफिया शहर इस सीक्रेट सोसाइटी के न्यू वर्ल्ड आर्डर का कमांड सेंटर होगा । साथ ही परमाणु युद्ध, जैविक या रासायनिक युद्ध, एलियन हमले तथा बड़ी महामारी में खुफिया बैैंकर्स व सीक्रेट सोसाइटी के सदस्योेंं की शरण स्थली का काम करेगा ।

Related Artical:   5G से बडी बिमारी

विकास का आतंक

0 Comments

Submit a Comment

Related Articles

Janleva Mobile aur Itihas I जानलेवा है मोबाइल I मोबाइल का इतिहास

Janleva Mobile aur Itihas I जानलेवा है मोबाइल I मोबाइल का इतिहास

यहाँ Janleva Mobile aur Itihas में मोबाइल से किस तरह से क्रूरता हो रही है तथा मोबाइल के इतिहास के बारे में जानेगे कि कैसे मोबाइल का आविष्कार हुआ । मोबाइल से क्रूरता की हदें पार I Janleva Mobile aur Itihas इंटरनेट, मोबाइल, कम्प्यूटर और टेलीविजन ने समाज को छिन्न-भिन्न...

read more
Mobile Tower se Nukasan I मोबाइल टावर के रेडियेसन से नुकसान

Mobile Tower se Nukasan I मोबाइल टावर के रेडियेसन से नुकसान

Mobile Tower se Nukasan यहाँ मोबाइल टावर के रेडिएसन से मनुष्य पशु पक्षी व पेडों को क्या क्या नुकसान हैं ? इस बिषय में रिसर्च क्या कहती है । मोबाइन टावरो की गाइड लाइन क्या है ? इनकी गलती के लिए शिकायत कैसे करे ? मोबाइल टावर क्या है ? Mobile Tower se Nukasan हमारे चारों...

read more
Mobile Radiation se Bachav I मोबाइल रेडिएशन क्या है कैसे बचे

Mobile Radiation se Bachav I मोबाइल रेडिएशन क्या है कैसे बचे

मोबाइल रेडिएशन क्या है कैसे बचे Mobile Radiation se Bachav तथा रेडिएशन को कैसे नापा जाता है । इन सब विषय में लोगों की क्या राय है ? यह सब महत्वपूर्ण जानकारी यहाँ मिलेगी । मोबाइल रेडिएशन से बचने का उपाय I Mobile Radiation se Bachane ka Upay   मोबाइल फोन का सीधे...

read more

New Articles

Sanskriti par Aaghat I संस्कृति पर आघात I Attack on Culture

Sanskriti par Aaghat I संस्कृति पर आघात I Attack on Culture

किस तरह से भारतीय संसकृति पर आघात Sanskriti par Aaghat किये जा रहे हैं यह एक केवल उदाहरण है यहाँ पर साधू-संतों का । भारतवासियो ! सावधान !! Sanskriti par Aaghat क्या आप जानते हैं कि आपकी संस्कृति की सेवा करनेवालों के क्या हाल किये गये हैं ? (1) धर्मांतरण का विरोध करने...

read more
Helicopter Chamatkar Asaramji Bapu I हेलिकाप्टर चमत्कार आसारामजी बापू I Helicopter miracle Asaramji Bapu

Helicopter Chamatkar Asaramji Bapu I हेलिकाप्टर चमत्कार आसारामजी बापू I Helicopter miracle Asaramji Bapu

आँखो देखा हाल व विशिष्ट लोगों के बयान पढने को मिलेगें, आसारामजी बापू के हेलिकाप्टर चमत्कार Helicopter Chamatkar Asaramji Bapu की घटना का । ‘‘बड़ी भारी हेलिकॉप्टर दुर्घटना में भी बिल्कुल सुरक्षित रहने का जो चमत्कार बापूजी के साथ हुआ है, उसे सारी दुनिया ने देख लिया है ।...

read more
Ashram Bapu Dharmantaran Roka I आसाराम बापू धर्मांतरण रोका I Asaram Bapu stop conversion

Ashram Bapu Dharmantaran Roka I आसाराम बापू धर्मांतरण रोका I Asaram Bapu stop conversion

यहाँ आप Ashram Bapu Dharmantaran Roka I आसाराम बापू धर्मांतरण रोका कैसे इस विषय पर महानुभाओं के वक्तव्य पढने को मिलेगे। आप भी अपनी राय यहां कमेंट बाक्स में लिख सकते हैं । ♦  श्री अशोक सिंघलजी, अंतर्राष्ट्रीय अध्यक्ष, विश्व हिन्दू परिषद : बापूजी आज हमारी हिन्दू...

read more
MatriPitri Pujan Valentine Divas I मातृपितृ पूजन वैलेंटाइन दिवस I Parents worship Valentine’s Day

MatriPitri Pujan Valentine Divas I मातृपितृ पूजन वैलेंटाइन दिवस I Parents worship Valentine’s Day

MatriPitri Pujan Valentine Divas I मातृपितृ पूजन वैलेंटाइन दिवस I Parents worship Valentine's Day के विषय पर महानुभाओं के विचार पढने को मिलेगें । आप भी अपने विचार इस विषय पर कमेंट बाक्स में लिख सकते हैं। MatriPitri Pujan Valentine Divas I मातृ-पितृ पूजन दिवस’ पर...

read more
Asharam Bapu par Sajis I आसाराम बापू पर साजिश I Conspiracy On Asharam Bapu

Asharam Bapu par Sajis I आसाराम बापू पर साजिश I Conspiracy On Asharam Bapu

संत, महंत, राजनेता व विशिष्ट लोगों के Asharam Bapu par Sajis I आसाराम बापू पर साजिश विषय पर अपनी अपनी राय यहाँ पढने को मिलेगी । इसे पढ कर आप भी अपनी राय कमेंट बाक्स में लिख सकते हैं। ♦ प्रसिद्ध न्यायविद् डॉ. सुब्रमण्यम स्वामी कहते हैं : ‘‘हिन्दू-विरोधी एवं...

read more
Sant AsharamBapu Kaun Hai ? I संत आसारामबापू कौन हैं ? I Who is Sant AsharamBapu ?

Sant AsharamBapu Kaun Hai ? I संत आसारामबापू कौन हैं ? I Who is Sant AsharamBapu ?

राष्ठ्रपति, प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री आदि विषिष्ठ लोगों के Snat AsharamBapu Kaun Hai ? इस विषय पर विचार संतों, राजनेताओं, पत्रकारों आदि के यहाँ मिलेगें । ♦ कानून में किसीको भी फँसाया जा सकता है । आशारामजी बापू पर लगा यह आरोप, केस - सारा कुछ बनावटी है । इस उम्र में...

read more