आरोग्य शिविर

कहा गया है : 'स्वस्थ शरीर में ही स्वस्थ मन का वास होता है ।'
आस्था केन्द्रों के द्वारा समय-समय पर आरोग्य शिविरों का आयोजन किया जाता है, जिनमें लोगों को स्वस्थ रहने के लिए घरेलू नुस्खे, मंत्र-चिकित्सा, आयुर्वैदिक उपचार आदि बताये व किये जाते हैं । आयुर्वेद के प्रचार-प्रसार पर भी विशेष ध्यान दिया जाता है । प्रशिक्षित वैद्यों व डॉक्टरों के द्वारा चिकित्सा भी की जाती है । 'आरोग्य शिविर' में 'नशा-उन्मूलन कार्यक्रम' का भी आयोजन होता है ।